Tuesday, July 23, 2019

वायरल बुखार के उपचार का घरेलू उपाय। Home remedies of viral fever.


वायरल बुखार के 5 आश्चर्यजनक घरेलू उपचार जो वास्तव में काम करते हैं :

वायरल बुखार इन दिनों वयस्कों और बच्चों में दोनों में सबसे आम समस्याओं में से एक है। इसके लक्षणों में गले में खराश, खांसी, गला बैठना, नाक बहना और शरीर में दर्द हो सकता है। बुखार कभी-कभी दस्त, उल्टी या पेट की ख़राबी का कारण हो सकता है।




यहां 5 अद्भुत घरेलू उपचार दिए गए हैं जो प्रभावी रूप से आपको वायरल बुखार से लड़ने में मदद करेंगे:

बदलते मौसम के कारण बदलते तापमान के साथ, वायरल बुखार का खतरा आजकल अधिक है। लेकिन अच्छी खबर यह है कि आसानी से उपलब्ध जड़ी बूटियों और उपचारों के बहुत सारे हैं जो वायरल बुखार से निपटने में प्रभावी हो सकते हैं। इन घरेलू उपचारों के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि ये किसी भी दुष्प्रभाव से मुक्त हैं, और आसानी से और दूर से उपलब्ध हैं। यहां 5 अद्भुत घरेलू उपचार दिए गए हैं जो प्रभावी रूप से आपको वायरल बुखार से लड़ने में मदद करेंगे।

१) तुलसी के पत्ते:


एंटी-बैक्टीरियल, कीटाणुनाशक, एंटी-बायोटिक गुणों के साथ, तुलसी के पत्ते वायरल बुखार के लक्षणों के उपचार के लिए एक और प्रभावी घरेलू उपाय है। आपको बस इतना करना है कि तुलसी के कुछ पत्तों को साफ पानी में उबालें, और इसमें आधा चम्मच लौंग पाउडर मिलाएं। घोल को आधा होने तक उबलने दें। संक्रमण से लड़ने के लिए नियमित अवधि में इस घोल को पियें। 

२) चावल स्टार्च:


जिसे हिंदी में कांजी के नाम से जाना जाता है, वायरल संक्रमण के इलाज के लिए चावल स्टार्च एक लोकप्रिय घरेलू उपचार है। यह एक मूत्रवर्धक एजेंट के रूप में काम करने के लिए जाना जाता है जो पेशाब को बढ़ाता है और प्रतिरक्षा को बढ़ाता है, जिससे आपको वायरल बुखार को ठीक करने में मदद मिलती है। 

३) अदरक और शहद: 


अदरक में विरोधी, एंटीऑक्सिडेंट और एनाल्जेसिक गुण होते हैं जो आपको तुरंत राहत प्रदान करने के लिए पर्याप्त शक्तिशाली होते हैं जो वायरल बुखार के लक्षण बनाते हैं। आमतौर पर कुछ शहद के साथ अदरक का सेवन करने की सलाह दी जाती है ताकि वायरल बुखार से छुटकारा मिल सके

४) धनिया के बीज:


आवश्यक विटामिन और फाइटोन्यूट्रिएंट्स से युक्त, धनिया की पत्तियां आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने में बहुत प्रभावी हैं। इनमें एंटीबायोटिक यौगिक और वाष्पशील तेल भी होते हैं। जिससे धनिया के बीज वायरल संक्रमण के इलाज के लिए एक बेहतरीन जड़ी बूटी है। आप धनिया के पत्तों से या तो धनिया चाय तैयार करके, या अपने लिए धनिया-पानी का मिश्रण बनाकर लाभ उठा सकते हैं।

५) मेथी पानी :


डायोसजेनिन, सैपोनिन और एल्कलॉइड जैसे तत्वों से भरपूर, मेथी भी घर पर वायरल बुखार के इलाज के लिए एक शक्तिशाली उपाय है। बस आधा कप पानी में एक बड़ा चम्मच मेथी के बीज भिगोएँ, और इसे पूरी रात के लिए छोड़ दें। वायरल बुखार के अपने लक्षणों में प्रभावी कमी के लिए सुबह में घोल लें और पी लें।


0 comments:

Post a Comment